अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर उड़ान भरने को तैयार है स्टारलाइनर! क्या यह अंतरिक्ष यात्रा का भविष्य है?

अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में एक बहुप्रतीक्षित घटना आने वाली है। नासा (NASA) और बाउंग (Boeing) मिलकर अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर जाने वाले स्टारलाइनर (Starliner) अंतरिक्ष यान के पहले चालक दल वाले परीक्षण मिशन की तैयारी कर रहे हैं। 

यह मिशन, जिसे “क्रेव्ड फ्लाइट टेस्ट” (Crewed Flight Test) कहा जाता है, मई 6, 2024 को लॉन्च होने के लिए निर्धारित है।

यह मिशन कई मायनों में महत्वपूर्ण है। सबसे पहले, यह अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (International Space Station – ISS) तक ले जाने के लिए बाउंग की क्षमता का परीक्षण करेगा। 

स्पेसएक्स (SpaceX) के क्रू ड्रैगन (Crew Dragon) यान की सफल उड़ानों के बाद से, नासा के पास अंतरिक्ष यात्रियों को ISS तक ले जाने के लिए दो स्वतंत्र अमेरिकी व्यावसायिक अंतरिक्ष यान विकल्प होंगे। यह अंतरिक्ष यात्रा में प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देगा और उम्मीद है कि लागत कम होगी।

दूसरा, यह मिशन बाउंग के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। कंपनी को 2019 में अपने पहले बिना चालक के स्टारलाइनर परीक्षण मिशन में सॉफ्टवेयर की समस्याओं का सामना करना पड़ा था, जिसके कारण यान ISS तक नहीं पहुंच सका। 

इसके बाद 2022 में एक सफल बिना चालक के मिशन हुआ था, जिसने नासा को चालक दल वाले मिशन के लिए आगे बढ़ने का विश्वास दिलाया।

आगामी मिशन में अंतरिक्ष यात्री सुनी विलियम्स (Sunita Williams) और बButch विल्मोर (Butch Wilmore) शामिल होंगे, जो दोनों ही नासा के दिग्गज हैं। 

वे अंतरिक्ष यान के सिस्टम का परीक्षण करेंगे और लगभग एक सप्ताह के लिए ISS पर रहेंगे। यदि मिशन सफल होता है, तो यह बाउंग को अंतरिक्ष यात्रियों को नियमित रूप से ISS तक ले जाने का रास्ता खोल देगा।

हालाँकि, कुछ चुनौतियाँ अभी भी बनी हुई हैं। सबसे पहले, भू-राजनीतिक तनाव अंतरिक्ष सहयोग को प्रभावित कर सकते हैं।

साथ ही, स्पेसएक्स के क्रू ड्रैगन यान का पहले से ही एक सफल ट्रैक रिकॉर्ड है, जिससे बाउंग को कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ेगा।

फिर भी, आगामी स्टारलाइनर मिशन अंतरिक्ष अन्वेषण के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है।

यह न केवल नासा को अंतरिक्ष यात्रियों को ISS तक ले जाने के लिए अधिक विकल्प प्रदान करेगा, बल्कि यह भविष्य के गहन अंतरिक्ष अभियानों के लिए भी मार्ग प्रशस्त कर सकता है।

आने वाले दिनों में अंतरिक्ष की दुनिया की निगाहें इस ऐतिहासिक लॉन्च पर टिकी रहेंगी।

और पढे :

Comment Here